मंगलवार, 17 अप्रैल 2012

रूह को छूते हर अल्फाज के साथ ये सुहाना नगमा .......

1 टिप्पणी:

expression ने कहा…

गूगल पर अमलतास के फूल खोज रही थी तो आपके ब्लॉग पर पहुँच गयी..........
सुंदर गीत.........
पूरा ब्लॉग ही प्यारा.

अनु