शुक्रवार, 18 मार्च 2011

पट तो गै रानी

गोकुल के घनश्याम
मीरा के बनवारी

हर रूप में तुहारी छवि
अति प्यारी

मुरली बजाके 
रास -रचाए |
और कह ग्वालों से 
पट तो गै रानी

अरे कान्हा ,
मीरा तो प्रेम दीवानी 
और राधा दरस दीवानी 

दोनों ही तेरे अधीन ही
फिर तू काहे कहे
पट तो गै रानी|

15 टिप्‍पणियां:

Udan Tashtari ने कहा…

सुन्दर

रश्मि प्रभा... ने कहा…

अरे कान्हा ,
मीरा तो प्रेम दीवानी
और राधा दर्श दीवानी

दोनों ही तेरे अधीन ही
फिर तू काहे कहे
पट तो गै रानी|
bahut hi sundar bhaw , aapko ek chutki abeer

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति

नीरज गोस्वामी ने कहा…

होली की ढेरों शुभकामनाएं.
नीरज

वन्दना ने कहा…

कान्हा प्रेम के रंगो मे रंगी बेहद खूबसूरत रचना……………होली की हार्दिक शुभकामनायें।

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत सुन्दर..होली की हार्दिक शुभकामनायें!

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " ने कहा…

अति सुन्दर

laxmi chouhan, Anubhuti , ने कहा…

मेरे ब्लॉग को पड़ने वाले और ब्लॉग के सभी आदरणीय सदस्यों को को होली की हार्दिक शुभकामनायें |
मेरा मार्ग दर्शन करते रहे और मेरे बड़े मुझे आशीष देते रहे |

Er. सत्यम शिवम ने कहा…

आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (19.03.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
चर्चाकार:Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर!
होली की शुभकामनाएँ!

सतीश सक्सेना ने कहा…

यह रंग अनमोल है ....
शुभकामनायें होली पर !

अजय कुमार ने कहा…

अच्छी रचना

सुरक्षित , शांतिपूर्ण और प्यार तथा उमंग में डूबी हुई होली की सतरंगी शुभकामनायें ।

नीरज जाट जी ने कहा…

आपको होली की शुभकामनाएं।

laxmi chouhan, Anubhuti , ने कहा…

आप सभी टिप्पणी दाताओं को होली की रंग भरी शुभकामनाएं |
और बहुत बहुत आभार |

नीरज बसलियाल ने कहा…

आहा... मजा आया ... अति सुन्दर